Saturday, December 2, 2023
Ads

India Slip At 56 Position In World Talent Raking Says International Institute For Management Development


World Expertise Rating: वर्ल्ड टैलेंट रैकिंग में भारत चार पायदान निचले जा फिसला है. इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट फॉर मैनेजमेंट डेवलपमेंट (Worldwide Institute for Administration Growth ) ने ये रैकिंग जारी किया है जिसके मुताबिक 2023 में दुनिया की 64 अर्थव्यवस्थाओं में भारत चार पायदान नीचे फिसलकर वर्ल्ड टैलेंट रैकिंग (World Expertise Rating) में 56वें स्थान पर जा फिसला है. 2022 में भारत इस रैकिंग में 52वें पायदान पर रहा था. 

रिपोर्ट के मुताबिक भारत में आधारभूत ढांचे में सुधार की सराहना की गई है. लेकिन टैलेंट के प्रतिस्पर्धा में और सुधार करने पर जोर दिया गया है. इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट फॉर मैनेजमेंट डेवलपमेंट (IMD) ने भारत के प्रतिभा पूल की तत्परता, टेक सैवी और भविष्य के लिए खुद के तैयार रखने की प्रशंसा की है. रिपोर्ट में कहा गया है, भारतीय वैश्विक भूमिकाओं के लिए पूरी तैयार नजर आ रहे हैं जिसमें उनकी भाषाई विविधता और इंटरनेशनल एक्सपोजर को श्रेय जाता है. 

आईएमडी वर्ल्ड कम्पिटिटिवनेस सेंटर के डायरेक्टर प्रोफेसर आर्टुरो ब्रीज ने कहा, इंफ्रास्ट्रक्चर ढांचे में पर्याप्त निवेश के साथ-साथ प्रतिभा प्रतिस्पर्धात्मकता, देश की दीर्घकालिक सफलता के लिए महत्वपूर्ण है. आईएमडी वर्ल्ड टैलेंट रैकिंग क्वालिटी ऑफ लाइफ, मिनिमम वेज, प्राइमरी से लेकर सेकेंडरी एजुकेशन को ध्यान में रखकर रिपोर्ट तैयार करता है.  भविष्य के लिए खुद के तैयार रखने के मामले में भारत 29वें पायदान पर है. हालांकि रिपोर्ट में भारत के एजिकेशन सिस्टम को कमजोर बताया गया और वो 64 में 63वें पायदान पर है. इसका कारण  ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षा की असमान पहुंच और अपर्याप्त निवेश है. 

प्रोफेसर ब्रीज ने कहा, शिक्षा में निवेश बढ़ाना इसका सबसे बड़ा समाधान है जिसके लिए मजबूत राजनीतिक प्रतिबद्धता की आवश्यकता है. ये किसी भी देश द्वारा किया जाने वाला सबसे बड़ा निवेश है. आईएमडी ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि भारत को घरेलू स्तर पर प्रतिभा को बनाए रखने के लिए वेतन वृद्धि और जीवन की गुणवत्ता, सुरक्षा और पर्यावरण मित्रता में सुधार सहित व्यापक नीतियों की आवश्यकता है. 

आईएमडी वर्ल्ड टैलेंट रैंकिंग 2023 में स्विट्जरलैंड पहले स्थान पर है, जबकि लक्जमबर्ग दूसरे स्थान पर है, उसके बाद आइसलैंड, बेल्जियम और नीदरलैंड की बारी आती है. अमेरिका 15वें स्थान पर है, जबकि चीन 41वें स्थान पर है और यूके 35वें स्थान पर है. ब्राजील 63वें और मंगोलिया 64वें पायदान पर है. 

ये भी पढ़ें 

2000 Rupee Notice: 30 सितंबर तक 2000 रुपये के नोट जमा या एक्सचेंज नहीं करने पर क्या हैं आपके पास विकल्प? जानें डिटेल्स

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles

%d bloggers like this: